Friday, May 23, 2014

इसपर गौर करें



घनघोर अंधेरों को रौशनी की तलाश है
खुद ही रौशन हो गया, वो अँधेरा खास है
-अरुण     

No comments: