Sunday, April 20, 2014

सोचने वाली बात



प्रश्न - उसके कड़वे शब्द मुझपर चोट करते हैं.... मै गुस्से से भर जाता है.
आपने कहा था.. ऐसी स्थिति में शांत रहना चाहिए.. पर गुस्सा रोक नहीं पाता,  क्या करूँ?

उत्तर – उसके तथाकथित कड़वे शब्द भीतर जिस काल्पनिक दीवाल पर आकर चोट करते हैं, उस दीवाल की काल्पनिकता को देख लो, दीवाल और चोट दोनों ही अपनेआप लुप्त हो जाएँगे
... अरुण

No comments: