Thursday, February 6, 2014

एक शेर -



नजर के ना सामने, होता बयां
नजर को ना चाहिए, कोई जुबाँ
-अरुण
 

No comments: