Tuesday, December 24, 2013

जागते हुए भी गहरी नींद



सोचने से सोच हट न पायी   
सूरज की गैरहाजिरी में रात ढल न पायी
जिसमें सूरज जैसा ध्यान जाग उठ्ठा हो
उसने जागरण में भी गहरी नींद पायी
-अरुण

No comments: