Friday, October 1, 2010

भगवान राम से ...

तेरे नगर में कोई

न झगडा फसाद था

तेरे नगर पे बहसें

पसरा बवाल है

बटने का सिलसिला तो

कबसे है चल पड़ा

अब किसको क्या मिले

ये मुकद्दर की बात है

...................................... अरुण

1 comment:

Udan Tashtari said...

चलिये, अब बवाल शांत हुआ.