Thursday, November 7, 2013

जीवन का निवास स्थान


जब भूत और भविष्य
वर्तमान के लिए जगह छोड़ते हैं 
वर्तमान जाग उठता है,
जब भूत से भविष्य या भविष्य से भूत
के मार्गक्रमण का
वर्तमान केवल एक जरिया बनता है
वह मृत अवस्था में होता है.
मरा हुआ भूत -भविष्य एवं जीवित वर्तमान,
इन दोनों के बीच ही
जीवन रहता है
-अरुण    

No comments: