Tuesday, May 1, 2012

वही सच्ची सेवा है


सेवाव्रत का बोझ सम्हाले
मनुष्य की सेवा करने वाले,
खुशियाँ नही, बोझ बाँट रहे हैं
जो सही माने में खुश हैं
वही अपनी खुशियाँ बांटना चाहते हैं और ऐसे लोग
दूसरों के लिए जो भी करते हैं
वही सच्ची सेवा है 
-अरुण

No comments: