Thursday, April 26, 2012

कुदरत न जनमती है


कुदरत न जनमती है
न मरती है वो कभी
कुदरत से जो जनमी है
वो है मेरी शख्सियत
-अरुण

No comments: